CORONA STORY

” कोरोना के समय मानवता का परिचय देने वाली संस्था ” कहानी प्रयास कॉर्प्स की…

देश में लॉकडाउन की घोषणा के बाद, लाखों प्रवासी भारतीय मजदूरों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है. आमदनी न होने और खाने के लिए कुछ नहीं होने के कारण, उन्हें भारतीय शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई और कोलकाता से सैकड़ों किलोमीटर दूर घर लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा। लॉकडाउन का मतलब यह भी है कि कोई बस या ट्रैन सेवा बंद रहेगी। गरीब के पास कोई विकल्प नहीं है बस पैदल चलने के अलावा।

कोरोना महामारी के समय सब कुछ बंद हो गया है, गरीब भिखारी जिनके पास जीवन-यापन करने के लिए पर्याप्त साधन नहीं है. ऐसे समय सरकार के साथ साथ बहुत से ऐसे संस्थान है जो इनकी मदद के लिए आगे आये है. आज हम Corona Story में उन्ही helping hand की बात करेंगे जो सकंट के समय अपनी मानवता का परिचय दिया है. 

देश में बहुत से ऐसे संस्थान है जिन्हे हम Non-Profit Organization (NGO) के नाम से जानते है. NGO  बिना किसी सरकारी भागीदारी या प्रतिनिधित्व के साथ प्राकृतिक या कानूनी व्यक्तियों के द्वारा बनाए गए विधिवत संगठित गैर सरकारी संगठनों को संदर्भित करने के लिए व्यापक रूप से स्वीकार किया गया है। भारत में 1 मिलियन और 2 मिलियन के बीच गैर सरकारी संगठन होने का अनुमान है

Prayaas Corps एक Non-Profit Organization (NGO) हैं. जो की 2013 से गरीब बच्चो की शिक्षा पर जोर देता आया है. यह उन बच्चो तक जाते है जो हमे रोड पर या तो भीख मांगते नज़र आते है या रोड पर गाड़ी का कांच साफ़ करते। Prayaas Corps के फाउंडर जसपाल गोदारा जिन्होंने अपने कॉलेज के समय से ही सोच रखा था की देश क लिए कुछ करना है तो मुझे सबसे पहले गरीबी को हटाना है. इन्होने उन बच्चो पर जोर दिया जो आने वाले सुनहरे भविष्य है. आज Prayaas Corps राजस्थान और बिहार में अपने साथियो के साथ मिलकर शिक्षा में योगदान दे रहा है.

कोरोना महामारी के चलते भी Prayaas Corps उन लोगो तक पहुंच रहा  है जो covid -19 के चलते अपना गुजारा नहीं कर पा रहे है. Prayaas Corps ने अभी तक 12000 फ़ूड पैकट बिहार में जरूरतमंद लोगो तक पहुंचाया है. बिहार में पटना , मुंगेर और गया में Prayaas corps का परिवार अपने जीवन की परवाह किये बिना इन तक खाने का सामान पंहुचा रहे है. राजस्थान के जयपुर में 1400 गरीब परिवारों तक खाना पहुंचाया है. रोज़ाना 10kg आटा, 5kg चावल, 2kg दाल, 2kg आलू, 1ltr तेल, नमक, मसाले इत्यादि वितरित किये गए है.

आज प्रयास कॉर्प्स की टीम ऐसे हज़ारों युवा साथियों से भरी पड़ी है जो देश और समाज की सेवा में तन मन से लगे हुए हैं। गर्व है ऐसे साथियों पर। जिसका सपना कॉलेज के दिनों में देखा था, आज वैसा ही एक मंच हम सभी ने मिलकर बनाया है

इस Covid-19 के चलते अगर सबसे ज्यादा समस्या का सामना किया है तो वो गरीब किसान, मजदुर जो प्रतिदिन अपना गुजारा मजदूरी करके किया करते है. हमारे समाज में इसके अलावा भी एक तबका है जिसको अक्सर नजरअंदाज कर दिया जाता है, वह लोग जो रोड के किनारे अपना तम्बू लगाए रहते है या ऐसे कहे की वह पड़े रहते है जो अपना गुजारा भीख मांग कर किया करते है. इस तबके को समाज ने कभी नहीं अपनाया इनसे अपने को अलग रखा है. 2019 की रिपोर्ट के अनुसार गरीब देशो की सूची में  भारत 129th स्थान पर है. वही अगर हंगर इंडेक्स की सूची देखी जाये तो भारत 119 देशो में से 103 स्थान पर है.

हम यह नहीं कह सकते की सरकार अपना काम नहीं कर रही है, पर यह सवाल तो सरकार से ही पूछा जा सकता है की अगर गरीबी और भूखमरी को लेकर काम किया गया है, तो गरीबी, भूखमरी इतनी क्यों आज इस महामारी के समय सबसे ज्यादा परेशानी गरीब किसान मजदुर या वो लोग जिन्हे हम भिखारी कहते है उनको उठानी पड़ रही है.

यह महामारी अभी भी भारत में फैल रही है और हमें इसका मुकाबला एकजुटता और सहयोग के साथ सामना करना होगा। सहयोग दे 

हम जो कुछ भी कमाते हैं उसी में घर चलाते हैं,
लेकिन हम जो देते हैं उससे जीवन बनाते हैं

DONATE NOW 

Account Holder: PRAYAAS CORPS
Account Number: 50100324578803
IFSC: HDFC0001844
Paytm Number : 7727048984
PhonePe/Google Pay 7727048984
UPI Id – 7727048984@ybl

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *